मैं, मेरी बहना और ये राखी …

संग आज नहीं हो तुम मेरे
ये कैसी होनी है?
मिठास नहीं है मुख में मेरे
कलाई भी सूनी है!

उदास मन से मैंने उसे
वीडियो कॉल  लगाया
राखी पर घर में न होने की
अंतर्व्यथा बताया

सोचा था मन की व्यथा
उधर भी वैसी ही होगी
मेरी अनुपस्थिति तो शायद
उसे भी खूब खली होगी

पर शैतानी हँसी देख
मैं भौचक्का रह गया
राखी के अवसर पर डिमांड  सुनकर
मैं हक्का-बक्का हो गया

कहा उसने
“तुम हो कहीं भी, अमेज़न पर मेरे लिए
आज ही iPhone X आर्डर कर  देना
और हो सके तो मेरी तरफ से
कलाई पर, एक राखी बांध लेना”

मैंने मन में सोचा
“क्या घोर कलयुग
इतनी जल्दी ही आ गया
भाई बहन के दिव्य रिश्ते को
भौतिक iPhone X खा गया !!!

😂😂😂

………अभय…….

क्यों भाईयों, क्या आपके संग भी ऐसा ही हुआ..और बहनों अपने कुछ ऐसा ही किया …….

फुहारें..

 

फुहारें गिरती थी, तो पल-पल तुम्हें हम याद आते थे!
कहीं तेरा बसेरा आज-कल, किसी रेगिस्तान में तो नहीं!!

                                                                                                                  ~अभय

दीप, अंधकार, प्रकाश और मैं..

नमस्ते मित्रों, कैसे हैं आप लोग? पिछले कुछ समय से समय की व्यस्तता के कारण हिंदी कविताओं का सृजन और उनका प्रेषण नहीं कर पा रहा था. पर सिर्फ समय को दोष दूँ तो कोई ठीक बात नहीं, समय के संग संग मन में भी विचार पनपने चाहिए और खास कर तब जबकि आप कोई पेशेवर कवि न हों.
कई दिनों बाद आज कुछ विचार आया आप तक पहुँचाता हूँ, ज़रा संभालना 🙂

Embed from Getty Images

जो तुम दीप बुझा दोगे अपनी
घोर अँधेरी रातों में
और सोचोगे कि मैं अब संग मौजूद नहीं
तो मैं बता दूँ आपको कि
मैं न तो प्रदीप्त प्रकाश हूँ
न ही खामोश अंधकार कोई
मेरा अस्तित्व न तो
चंद दीयों पर निर्भर करता है
दीये के जलने पर भी मैं हूँ
दीये के बुझने पर भी मैं ही
माना नज़र न आ सकूँ
पर नज़र न आना और अस्तित्व न होना
दोनों एक बात तो नहीं
बोलो, है कि नहीं ?

…….अभय…….

Human and Competition

Recently came across a data which I found intriguing and interesting. If someone would ask you which one is more dangerous among Lions and Mosquitoes? Yes, the answer is obvious. But the set of data which I accessed presented me a whole different story. I also felt bad on seeing that how competitive we as human have become. We are so obsessed in our quest to claim the first position that we are now even competing with mosquitoes….

Have a look at it..

People killed in 2015 by:

Mosquitoes: 830,000

Humans: 580,000

Snakes: 60,000

Sandflies: 24.200

Dogs: 17,400

Kissing Bugs: 8,000

Scorpions: 3,500

Tsetse flies: 3,500

Tapeworms: 1,600

Crocodiles: 1,000

Lions: 100

Bees: 60

Tigers: 50

Jellyfish: 40

Wolves: 10

Sharks: 6

Source: Gatesnotes